अनार खाने के 25 जबरदस्त फायदे | Health Benefits of pomegranate in Hindi

anar

 

अनार खाने के 25 जबरदस्त फायदे | Health Benefits of pomegranate in Hindi

परिचय :-    अनार एक फल हैं, यह लाल रंग का होता है । इसमें सैकड़ों लाल रंग के छोटे-छोटे रस भरे दाने होते हैं । अनार में प्रचुर मात्रा में  फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, विटामिन और खनिज पाए जाते हैं । जो शरीर को स्वस्थ रखने में सहायक होते हैं | अनार का उपयोग कई प्रकार की औषधियां बनाने में भी किया जाता है  अनार शब्द सुनते ही एक कहावत स्मरण हो आता है-‘एक अनार, सौ बीमार।’ चौंकिए मत, अनार बीमारियों का घर नहीं है, बल्कि यह तो हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके साथ सबसे अच्छी बात यह है कि यह पूरे साल उपलब्ध रहता है। हालांकि कई लोग पौष्टिक फल की श्रेणी में इस शानदार फल को कम आंकते हैं। लेकिन आज हम आप को बताते हैं कि अनार किस तरह हमारे शरीर के लिए फायदेमंद है।

 

  • हिंदी – अनार्

  • संस्कृत नाम – दाडिमम्

  • English – Pomegranate

  • Scientific Names – Punica granatum

  • Other Name-Anar

 

  • इसे भी पढ़े :

अनार से विभिन्न रोगों का सफल उपचार : Anar  Khane ke Fayde(labh) in Hindi

अनार द्वारा ठीक होने वाले रोग

  1. अनार का जूस खून में ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाता है। इसका एंटीऑक्सीडेंट कोलेस्ट्रोल को कम करता है, फ्री रेडिकल्स से बचाता है और खून का थक्का बनने से रोकता है

  2. अनार पेट दर्द में 40-50 ग्राम दानो में पिसी कालीमिर्च मिलाकर खाना चाहिए |

  3. अनार से वजन नहीं बढ़ता है, क्योंकि यह बिना कैलोरी वाला फल है।dcgyan

  4. पेट की अनेक बीमारी में – उल्टी व दस्त, संग्रहणी, यकृत की दुर्बलता, बेचैनी व प्यास की तीव्रता गैस बनना आदि में मीठा अनार खाना हितकर है | अनार मूत्रल होने के कारण अनेक मूत्र-विकारों को दूर करता है |

  5. पीलिया में – मीठे-अनार दानो का रस 50-60 ग्राम रात को खुले स्थान पर लोहे के पात्र में रख दें | प्रातःकाल उसमे उचित मात्रा में मिश्री मिलाकर पीयें | ऐसा रोग-स्थिति के अनुसार एक-दो सप्ताह करने से रोग-मुक्त संभव है |dcgyan

  6. स्वप्नदोष में – सूखा लाल अनार का छिलका कूट-छानकर 3-4 ग्राम, प्रातः सायं ताजा पानी से नियमित दो सप्ताह तक लेने से स्वप्नदोष विकार ठीक हो जाता है | खटाई व रात्रिकाल में सोते समय गरम दूध का प्रयोग न करें |

  7. मूत्र-विकार में – मसाने की गर्मी के समय एंव बार-बार पेशाब जाने की स्थति में अनार के छिलके के बारीक चूर्ण का सेवन सुबह-सायं ताजा जल के साथ दिन में रोग दशानुसार करें |

  8. बवासीर में – मीठे कंधारी अनार के छिलकों के पिसे बारीक चूर्ण 5-6 ग्राम को, प्रातःसायं ताजा जल के साथ नियमित कुछ दिनों तक सेवन करने से खूनी बवासीर में लाभ हो जाता है | किन्तु इस समय गरम वस्तुओं का सेवन न करें और कब्ज न होने दें |

  9. खांसी में – मीठे अनार के छिलके के चूर्ण 20 ग्राम में लाहौरी नमक 4-5 ग्राम डालकर पानी के साथ गोलियां (एक-एक ग्राम की) बनाकर रख लें | ये गोलियां दिन में तीन बार चूसने से खांसी ठीक हो जाती है |

  10. काली खांसी में – रोगी बच्चे को अनार का छिलका पड़ा ,दूध उबालकर पिलायें | कुछ दिनों में खांसी ठीक हो जायेगी |

  11. पायेरिया में – अनार के फूल छाया में सुखाकर बारीक करके मंजन की भांति मलने से मसूढ़ों से रुधिर निकलना बंद हो जाता है और दांतों की मजबूती बढ़ती है |

  12. पेचिश में – लगभग 10-15 ग्राम अनार के छिलके एंव 2 लौंग पीसकर लगभग 400-500 ग्राम (1 गिलास) पानी में 8-10 मिनट तक उबालें, तत्पश्चात छानकर लगभग 50-50 ग्राम कुछ दिनों तक, प्रतिदिन दिन में 3 बार पीने से पेचिश व दस्त में लाभ होता है | दस्त में अनार का रस पीना भी हितकर है |

  13. नाक से रक्त निकलना या नकसीर चलना में – अनार का रस निकालकर नथुनों में कुछ बूंदें टपकाने से नकसीर में लाभ होगा |

  14. मुख-दुर्गन्ध, मुंह में पानी आना – लगभग 5 ग्राम अनार के पिसे छिलकों की फंकी कुछ दिनों तक नित्य दिन में दो बार लें | साथ ही छिलकें उबालकर उनके पानी से कुल्ला करें |dcgyan

  15. अनार का रस पीने से उल्टी होना, जलन, जी मिचलाना, खट्टी डकारें आना, हिचकी, घबराहट, प्यास आदि में लाभ तो होता ही है, शरीर की शक्ति व रक्त की वृद्धि भी होती है |

  16. गंजापन में – में अनार के पत्ते जल में पीसकर सिर पर लेप करें |

  17. पागलपन, हिस्टीरिया – के दौरे पड़ने पर अनार के पत्ते व गुलाब के ताजे फूल 15-15 ग्राम लगभग आधा किलो पानी में चौथाई पानी रहने तक उबालें | फिर उसे छानकर लगभग 20 ग्राम शुद्ध देशी घी मिलाकर प्रतिदिन सेवन करें |

  18. अनार के पत्ते पीसकर घाव (कोढ़ के), दाद या डंक पर लगाने से बिच्छू अथवा बर्र द्वारा काटने, दाद, कोढ़ के घाव आदि में लाभ होता है |dcgyan

  19. मीठे अनार के सेवन से कमेन्द्रियाँ बलवान होती हैं व पेट मुलायम रहता है |

  20. ग्रीष्म ऋतु में अनार के शर्बत का सेवन करने से गर्मी दूर होती है |

  21. अनार खाने से ब्रेस्ट कैंसर और फेफड़ो के कैंसर की संभावना कम रहती है।

  22. अनार के सेवन से हार्ट अटैक और स्ट्रोक के खतरे को भी कम किया जा सकता है।

  23. अनार रक्त में आयरन की कमी को दूर करता है और एनीमिया जैसी बीमारियों से छुटकारा दिलाता है।

  24. अनार के सेवन से त्वचा में निखार आता है इसलिए स्वस्थ त्वचा के लिए भी आप अनार के जूस का सेवन कर सकते हैं।

  25. अनार से अधिक उम्र के लोगो को होने वाली एलजाइमर नामक बीमारी से भी छुटकारा मिलता है।

धन्यवाद , www,dcgyan.com  को सब्सक्राइब  करना न  भूलें ,

  • इसे भी पढ़े :

Tags:   health benefits of pomegranate, anar khane ke fayde, pomegranate, anar ke fayde, benefits, pomegranate benefits, अनार के स्वास्थ्य लाभ, health tips in hindi, skin, #pomegranates health benefits, #pomegranates benefits, #pomegranates surprising benefits, #benefits, #health, #pomegranates, #pomegranate, #अनार के ये फायदे जानकर आप दंग रह जायेंगे, #health benefits of pomegranate in hindi, #अनार के स्वास्थ्य लाभ, #अनार के फ़ायदे, #anar ke fayde, #yaun shakti, #kaam shakti, boost immunity, uses of anaar, anaar benefits, anaar, blood pressure pomegranates, blood pressure, pomegranates heart disease, heart disease, #omegrates benefits and side effects, diabetes, side effects, pomegrates benefits and side effects, pomegranates health benefits, pomegranates benefits, pomegranates surprising benefits, uses of pomegranates, health

Advertisements

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *