आगरा का लाल किला हिन्दू भवन है –online pdf book

लाल किला ,हिन्दू ,भवन , भारत , किला, आगरा , ,यमुना ,नदी , ,किला ,बादलगढ़ ,

आगरा का लाल किला हिन्दू भवन है –online pdf book

आ गरा किला, भारत का एक अति प्रसिद्ध एवं महत्वपूर्ण किला है। यह किला आगरा शहर में यमुना नदी के दाँए तट पर स्थित है। ऐसा माना जाता है कि यह किला बादलगढ़ नाम के एक प्राचीन गढ़ के अवषेष पर स्थित है। 1517 ई0 में सिकन्दर लोदी की मृत्यु के बाद उसके पुत्र इब्राहीम लोदी के नियंत्रण में यह किला आया औार भारत में मुगल साम्राज्य के संस्थापक बाबर से 1526 ई0 में पानीपत की लड़ाई में पराजित और मृत्यु को प्राप्त होने तक उसके अधीन रहा। बाबर ने अपने पुत्र को आगरा भेजा जिसने किले को अपने अधीन किया और विष्व प्रसिद्ध कोहिनूर हीरा सहित भारी मात्रा में धन दौलत को जब्त कर लिया। 1530 ई0 में हुमायू का यहां राज्याभिषेक भी हुआ था।                  
Advertisements

इस पुस्तक को ऑनलाइन पढ़ें  |

 

 

इस पुस्तक को डाऊनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

सूरवंष के शेरषाह सूरी ने हुमायँु को पराजित कर यह किला अपने नियत्रंण में ले लिया। लाल बलुए पत्थरों से किले की अधिकांष भवन एवं प्राचीर को अकबर ने आठ सालों (1565-73) में बनवाया था। उसका पुत्र जहागीर अधिकांषतः लाहौर और कश्मीर में निवास किया करता था किन्तु आगरा नियमित रूप से आता था और किले में निवास करता था। यद्यपि जहाँॅंगीर के पुत्र शाहजहाँ ने भी अपनी राजधानी को आगरा से दिल्ली 1648 ई0 स्थानान्तरित कर दिया था फिर भी आगरा किले मंे ही निवास करता था।

Advertisements

शाहजहाँं ने लाल बलुए पत्थरों से निर्मित किले की अधिकांष संरचनाऐं गिरवाकर उसकी जगह सुन्दर श्वेत संगमरमर पत्थरों से निर्मित महल बनवाए। ओैरंगजेब ने अपने पिता शाहजहांँ को उनकी मृत्यु 1666 ई0 तक यहाँॅं कैद कर रखा था। यद्यपि औरंगजेब दक्षिण के युद्ध में लगातार व्यस्त रहा किन्तु समय-समय पर यहाँॅं आता था और दरबार लगाता था। 1666 ई0 में षिवाजी ने आगरा के दीवाने खास में औरंगजेब से मुलाकात की थी। 1707 ई0 में औरंगजेब की मृत्यु के बाद आगरा मेंु राजनैतिक अस्थिरता आ गई। अन्ततोगत्वा इस पर जाटों और मराठों ने अपना आधिपत्य जमा लिया। 1803 ई0 में मराठों से अंगे्रजों ने इसे अपने कब्जे मेें लिया।

 

इस किले का भूविन्यास अर्ध वृत्ताकार हे जो यमुना नदी की धारा के समानान्तर चाप जैसी आकृति में है। इसकी 70 फीट ऊंॅंची दोहरी प्राचीर चैड़ी एवं विषाल वृत्ताकार बुर्ज जो नियमित अंतराल पर चारों तरफ चार द्वार के साथ बना है। इन द्वारों को अमर सिंह द्वार, दिल्ली द्वार, हाथी द्वार, और खीजड़ी द्वार (जल द्वार) के नाम से जाना जाता है। वर्तमान में अमर सिंह द्वार ही प्रयोग में आ रहा है। किले का एक भाग भारतीय सेना के नियंत्रण में है।

Advertisements

आगरा किला में धार्मिक एवं धर्मनिरपेक्ष दोनों तरह के सुन्दर भवन बने हुए हैं। किले के महत्वपूर्ण स्मारकों में अमर सिंह द्वार, अकबरी महल, जहाॅंँगीर का हौज, जहाँॅंगीरी महल, खास महल या आराम-गाह या निजीकक्ष (जिसमें प्रत्येक तरफ सुन्दर दीर्घाएँं हैं), अंगूरी बाग, चित्तौड़ द्वार, शीषमहल, मुसम्मन बुर्ज जिसके साथ पच्चीसी दरबार और कक्षों से घिरा दीवाने खास, मच्छी भवन, मीना मस्जिद, नगीना मस्जिद, दीवाने आम, मोती मस्जिद, सलीम गढ़, शाहजहाँॅं का महल, सोमनाथ द्वार को अतिक्रमित कर मराठा भवन, रतन सिंह की हवेली और जाॅन रसल कैल्विन की कब्र है।

Advertisements

Tags:

agra fort timings,who built red fort in delhi,dilli ka lal kila,agra architecture,agra ka taj mahal kisne banaya tha,agra ka kila photo,amber fort information in Marathi,fort history in hindi,agra fort architecture pdf,tomb of i’timād-ud-daulah,architectural excellence of agra fort,essay on agra city in hindi,allahabad ka kila kisne banaya,delhi lal kila kisne banaya,delhi ki jama masjid kisne banwai,history of old fort in hindi,
Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *