गर्भावस्था के दौरान बालों के टूटने के 17 कारण || 17 reasons for hair breakage during pregnancy

गर्भावस्था के दौरान बालों के टूटने के 17 कारण || 17 reasons for hair breakage during pregnancy

किसी भी महिला के लिए गर्भावस्था उसके जीवन के सबसे सुखद एहसासों में से एक है, लेकिन ढेर सारी खुशियों के साथ ये अवस्था कुछ शारीरिक बदलाव भी लाती है। इस दौरान जी मिचलाना, हाथ-पैरों में सूजन, थकान, त्वचा पर धब्बे बहुत आम हैं । बालों का झड़ना भी ऐसी ही समस्या है, जिसका सामना गर्भवस्था के दौरान आपको करना पड़ सकता है। हालांकि,  बालों का झड़ना एक सामान्य बात है और यह सब के साथ होता है, बाल खासकर तब ज्यादा झड़ते हैं जब हम इन्हें धोते हैं या कंघी करते हैं। बालों के बहुत ज्यादा झड़ने को ‘टेलोजेन एफ्लुवियम’ भी कहते हैं और यह आमतौर पर गर्भावस्था के बाद एक से पाँच महीने के बीच होती है। यह एक अस्थायी समस्या है जो 40 से 50% महिलाओं को प्रभावित करती है। बालों का झड़ना आमतौर पर डिलीवरी के बाद 6 से 12 महीने के भीतर सामान्य हो जाता है। गर्भावस्था के दौरान हार्मोनल अस्थिरता और कुछ शारीरिक परिवर्तन बालों के झड़ने का कारण बनते हैं।  बालों के बढ़ने के क्रम में, वह लगभग 90% बढ़ रहा होता है, जबकि शेष 10% निष्क्रिय अवस्था में रहते हैं। गर्भावस्था के दौरान, ज्यादातर महिलाओं के बाल घने, चमकदार होते हैं। गर्भावस्था के दौरान बाल कई कारणों से झड़ सकते हैं। इस दौरान गर्भवती महिला शारीरिक, मानसिक और हार्मोनल बदलाव से गुजरती है, जो बालों के झड़ने की वजह हो सकती है। इनके अलावा और भी कुछ कारण हैं,

hair fall during pregnancy video

आइए, जानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान बालों के झड़ने के पीछे क्या कारण है।

1. पोषण की कमी :- एक गर्भवती महिला को अधिक पोषण की जरूरत होती है। और यदि आप पहली तिमाही में मतली का अनुभव करती हैं, तो हो सकता यह आप में पोषक तत्वों की कमी के वजह से हो रहा हो। पौष्टिक भोजन के अपर्याप्त सेवन से अक्सर बाल झड़ने लगते हैं। आयरन, प्रोटीन, खनिज और विटामिन की कमी बाल झड़ने का सबसे बड़ा कारण है। याद रखें कि विटामिन का बहुत ज्यादा मात्रा में सेवन से भी बाल झड़ने लगते हैं।

2. एलोपेसिया (alopecia) :- इस अवस्था में बाल गुच्छे के रूप में झड़ सकते हैं या पैचेज के रूप में भी निकल सकते हैं जैसे सिर के बीच से या सामने से या सिर के किसी और भाग से। पैचेज के रूप में बाल झड़ने वाली इस समस्या को चिकित्सकीय भाषा में एलोपेसिया (alopecia) कहा जाता है। गर्भवती महिला को ऐसा होना आम है ।Homeopathic Medicine For Baldness

3. बीमारी :-  कुछ मामलों में, गर्भवती महिलाओं को जेस्टेशनल डायबिटीज या दाद (फंगल इन्फेक्शन) जैसी कुछ समस्याएं होती हैं, जिससे बाल झड़ सकते हैं। ब्लड प्रेशर या डिप्रेशन के इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली कुछ दवाएं, बालों के झड़ने का कारण बन सकते हैं। यदि ऐसा होता है, तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें।
Advertisements

4. हार्मोनल परिवर्तन :-  गर्भावस्था के दौरान बहुत से हार्मोनल परिवर्तन होते है। आपके शरीर में एस्ट्रोजेन का स्तर बढ़ता हैं और वे बाल विकास की सुविधा देते हैं, लेकिन जब आपके शरीर का हार्मोनल असंतुलन होने लगता हैं तो आपके बालों में इसका असर पड़ने लगता है। हार्मोन्स में उतार-चढ़ाव बालों के झड़ने का एक बड़ा कारण है, क्योंकि वे बालों के सामान्य विकास चक्र में बाधा डालते हैं। जिससे यह अत्यधिक बालों के झड़ने का कारण बनता है,Tips for Healthy Hair in hindi

5. आनुवांशिक समस्या :-  बालों का झड़ना कई मामलों में आनुवांशिक रूप से भी जुड़ा होता है। यदि आपकी माँ की गर्भावस्था के दौरान ऐसी ही स्थिति थी, तो आप भी इस समस्या से प्रभावित हो सकती हैं।बॉडी के ये 10 ऑर्गन्स

6. थायराइड की कमी :-  हाइपोथायरायडिज्म एक ऐसी स्थिति है जब शरीर में थायराइड का स्तर कम होता है। यह हार्मोन, मेटाबोलिज्म, मानसिक स्वास्थ्य, पाचन प्रक्रिया और यहाँ तक कि बाल और नाखूनों को विनियमित करने के लिए जिम्मेदार होता है। नतीजतन, थायराइड की कमी आपके बालों के झड़ने का कारण हो सकता है।

7.  पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (पीसीओएस) :-   पीसीओएस, हार्मोनल असंतुलन के कारण होता है, जो महिलाओं में पुरुष हार्मोन को अतिरिक्त मात्रा में छोड़ता है। इससे महिलाओं में बालों का अत्यधिक विकास होता है और इससे सिर के बाल बहुत ज्यादा झड़ने लगते हैं ।dcgyan

8.   गर्भ निरोधक गोलियां बंद करना :- प्रेगनेंसी से पहले अगर महिलाएं गर्भ निरोधक गोलियां लेती थी तो उन्हें इस दौरान बाल गिरने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसके कुछ साइड-इफेक्ट देखने को मिलते हैं। इसमें दो प्रकार की गोलियां होती हैं- पहली प्रोजेस्टेरोन गोली और संयोजन की गोलियां, जिसमें प्रोजेस्टेरोन और एस्ट्रोजन दोनों होते हैं ये गर्भनिरोधक गोलियां आपके बालों को बहुत जल्दी आराम करने के चरण में ले जाती हैं और इससे बालों के अत्यधिक झड़ना शुरू हो जाते हैं जिन्हें telogen effluvim कहा जाता है।

9. फोलिक एसिड की कमी :-  विटामिन बी 12 या फोलिक एसिड बाल के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और यह बालो के विकास को बढ़ाने में मदद करता है। विटामिन बी 12 की कमी के कारण बालो का विकास धीमा हो जाता है। फोलिक एसिड या विटामिन बी 12 गर्भावस्था के दौरान होने वाले सेल के विकास, दिमाग के विकास के लिए बहुत जरूरी है। इसकी कमी से भी बालों के गिरने की समस्या हो सकती है।aenimia

10.  एनीमिया :-  गर्भावस्था के दौरान शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की मात्रा में कमी से बाल गिरने की परेशानी होती है। गर्भावस्था के दौरान आयरन की कमी बहुत आम है और बाल गिरने की समस्या गर्भावस्था के दौरान होने लगती है।
Advertisements

11. दवाएं :- गर्भावस्था के दौरान कुछ दवाएं भी दी जाती हैं जैसे कि एंटी-डिप्रेसेंट दवाएं जो आपके रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करने के लिए दी जाती है जिससे कुछ साइड इफेक्ट हो सकते है। इसके अलावा अगर प्रेगनेंसी में गर्भवती महिलाएं उच्चरक्तचाप (gestational hypertension in hindi), चिंता और तनाव के लिए दवाईयां लेती हैं, तो यह भी बाल झड़ने के कारण हो सकते हैं।

12. प्रजनन संबंधी समस्या :-  यह देखा गया है कि जन्म नियंत्रण की गोलियां लेने या अन्य जन्म नियंत्रण प्रक्रिया को बंद करने से अक्सर बालों के झड़ने की समस्या बढ़ जाती है। अबॉर्शन, मृत शिशु का जन्म और गर्भपात के कारण भी बाल झड़ सकते हैं।

13.  सिर के स्कैल्प संबंधी बीमारी :-  कई महिलाओं को सिर की त्वचा संबंधी एलर्जी के कारण भी आपको बाल झड़ने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है जिससे आपके सिर की त्वचा पर प्रभाव पड़ता है। यह बालों के पतले होने और यहाँ तक कि बालों के झड़ने का भी कारण बन सकता है।madhumeh,diabetes,

14. संतुलित आहार की कमी :- प्रेगनेंसी में गर्भवती महिलाओं को अधिक पोषक तत्वों की ज़रूरत होती है, जिसकी वजह से उन्हें पर्याप्त मात्रा में संतुलित आहार लेना चाहिए। प्रेगनेंसी में संतुलित आहार न लेने की वजह से गर्भवती महिलाओं को बाल गिरने की समस्या से जूझना पड़ता है।

15.  सिर में एलर्जी होना :-   कई गर्भवती महिलाओं को सिर में एलर्जी होती है और इसकी वजह से उनके बालों की जड़े कमज़ोर हो जाती है, जिससे बाल झड़ने लगते हैं।

16.   चर्म रोग (Lupus)  :- चर्म रोग(Lupus) एक दीर्घकालिक (Chronic) बिमारी है़, जिसमें शरीर की खुद की रोग प्रतिरोधी प्रणाली कोशिकाओं पर आक्रमण करने लगती है। महिलाएं जब गर्भवती रहती हैं तो यह बीमारी आक्रमण करती है। इसमें बालों के जड़ (scalp) पर रैशेज हो जाते हैं और केश झड़ने-टूटने लगते हैं।
Advertisements

17.  बालों की ज्यादा स्टाइलिंग (Over Hair Styling) :- बालों में शैंपू के ज्यादा इस्तेमाल, बालों को ज्यादा डाई करना या फिर कलर करना बालों को नुकसान पहुंचाते हैं। हेयर जेल लगाने से भी बाल ज्यादा झड़ते-टूटते हैं। आजकल बालों को डिफरेंट लुक देने के लिए केराटिन हेयर ट्रीटमेंट (Keratin Hair Treatment) का प्रचलन ज्यादा हो गया है। इससे बालों को कुछ दिनों के लिए स्टाइलिश तो बना सकते हैं। मगर लांग टर्म में यह बालों की सेहत के लिए नुकसानदेह है। इससे बाल काफी तेजी से झड़ने लगते हैं।dcgyan

गर्भावस्था के दौरान बाल झड़ने के कारण बहुत हैं इसके अलावा, अगर बच्चे के जन्म के बाद आपके बालों के झड़ने की समस्या बढ़ गयी है, तो घबराइए नहीं। यह आम है और किसी भी महिला के साथ हो सकता है। अगर आपके बाल बहुत ज्यादा झड़ रहे हैं, तो बिना अपने डॉक्टर से परामर्श के कोई दवा न लें।

यह लेख केवल  गर्भावस्था के दौरान बालों के टूटने के कारणों के  लिए है  गर्भावस्था के दौरान बालों के टूटने के उपाय ,नेक्स्ट लेख में देखें | इस लेख को देखने, शेयर करने और लाइक करने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यबाद ,

Advertisements

Tags

hair loss,hair fall,how to stop hair fall,pregnancy,गर्भावस्था, pregnancy hair loss, postpartum hair loss, how to stop hair fall, hair loss after pregnancy , hair loss after giving birth, ganjapan ka ilaj,hair fall treatment,hair fall solution, hair fall treatment in pregnancy, गर्भावस्था में बालों को झड़ने से कैसे रोके, pregnancy me balo ke jhadne se kaise roke, how to stop hair fall,home remedies for hair fall,

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *