तरबूज खाने के फायदे और नुकसान – Watermelon Benefits And Side Effects In Hindi

तरबूज खाने के फायदे और नुकसान – Watermelon Benefits And Side Effects In Hindi

गर्मियों का मौसम शुरू होते ही तरबूज खाना शुरू हो जाता है। क्योंकि गर्मियों के मौसम में तरबूज का सेवन बहुत लाभकारी होता है तरबूज जो कि बाहर से देखने में थोड़ा कड़क और अंदर से एकदम नरम होता है। तरबूज को हम एक स्वादिष्ट फल के रूप में तो जानते ही हैं, परंतु क्या आप जानते हैं तरबूज अत्यंत पोष्टिक भी है? तरबूज जो हमें गर्मी में ठंडक का एहसास दिलाता है, वह हमें अनेक बीमारियों से ना केवल लड़ने की क्षमता देता है, अपितु उनसे बचाता भी है। तरबूज कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर और विटामिन सी, विटामिन ए और विटामिन बी का बहुत अच्छा स्रोत है। इसमें आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम और फास्फोरस जैसे महत्वपूर्ण खनिज भी निहित हैं। यह मिनरल का अच्छा स्रोत माना जाता है तरबूज खाने से आपको ढेर सारे स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ गर्मी से राहत प्राप्त होगी क्योंकि तरबूज शरीर को ठंडक प्रदान करता है इसमें बीटा केरोटिन के साथ साथ एंटीऑक्सीडेंट भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है तरबूज में आयरन कैल्शियम मैग्नीशियम फास्फोरस और पोटेशियम जैसे महत्वपूर्ण खनिज तत्व मौजूद होते हैं जो आपको कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने की क्षमता प्रदान करते हैं आइए जानते है।

तरबूज खाने के फायदे VIDEO

तरबूज खाने के फायदे – Watermelon Benefits in Hindi

1.वजन को कम करे – Watermelon Helps to Reduce Weight in Hindiwww.dcgyan.com

तरबूज से ना ही तो वजन बढ़ता है और ना ही कोलेस्ट्रॉल, ऊपर से इसमें कैलोरी भी कम होती है। तरबूज में सिट्रलीन (citrulline) नाम का एक तत्व होता है जो शरीर का वजन घटाने में अत्यंत सहायक है। पोषण के जर्नल में प्रकाशित 2007 के एक अध्ययन के अनुसार, यह तत्व ह्रदय के कार्य में सुधार लाता है और चर्बी को शरीर में जमा होने से रोकता है। चूँकि इसमें 90% पानी होता है, इससे हमारा पेट जल्दी भर जाता है और हम ज्यादा खाने से भी बच जाते हैं।dcgyan

2.सिर दर्द से राहत – Watermelon Benefits In Headache Relief in Hindi

गर्मियों के मौसम में अक्सर सिर दर्द की समस्या बढ़ जाती है ऐसे में आप सिर दर्द को दूर करने के लिए तरबूज का सहारा ले सकते हैं। तरबूज खाने से शरीर को ठंडक प्राप्त होती है और गर्मी की वजह से हो रहा सिर दर्द भी दूर हो जाता है। इसलिए गर्मियों में सिर दर्द को ठीक करने के लिए तरबूज को खाना लाभदायक माना जाता है।     
Advertisements

3.मांसपेशियों के दर्द से दिलाए राहत – Benefits Of Watermelon Relief From Muscle Pain in Hindidcgyan

(tarbooj )मांसपेशियों में हो रहे दर्द के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि अधिक व्यायाम करना किसी तरह का मांसपेशियों में खिंचाव उत्पन्न होना ऐसी स्थिति में आप तरबूज का सेवन कर मांसपेशियों के दर्द को कम कर सकते हैं एक अध्ययन में पाया गया है कि अगर आप मांसपेशियों के दर्द को तरबूज खाकर कम करते हैं तो आप जल्दी ही मांस पेशियों के दर्द से राहत पा पाते हैं।

क्योंकि तरबूज में प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाला अमीनो एसिड एल सिट्रोलाइन पाया जाता है जो कि मांसपेशियों के दर्द को कम करने में सहायक होता है आप मांसपेशियों के दर्द से राहत पाने के लिए तरबूज के जूस का सेवन कर सकते हैं क्योंकि यह आपके शरीर में पानी से हुई कमी को भी पूरा करता है साथ में आपको एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा भी प्राप्त हो जाती है और मांस पेशियों के जरूरी प्रोटीन भी इससे मिलता है।

4.रक्तचाप को कम करने में – Watermelon Benefits For Reducing Blood Pressure in Hindi

जैसा कि आप जानते हैं उच्च रक्तचाप में पोटेशियम और सोडियम के स्तर को नियंत्रित करना आवश्यक होता है। तरबूज में पोटेशियम, मैग्नीशियम के साथ-साथ अमीनो एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कि शरीर में स्थित रक्त कोशिकाओं को स्वस्थ रखने का काम करता है। एक अध्ययन के अनुसार यह देखा गया है कि अधिक मोटापे से ग्रस्त लोगों में उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए तरबूज का सेवन लाभकारी साबित हुआ है इसके लिए आप तरबूज के एक गिलास जूस का सेवन प्रतिदिन कर सकते हैं और उच्च रक्तचाप से छुटकारा पा सकते है।

5.ऊर्जावान बने रहने के लिए – Tarbuj Benefits For Energy in Hindidcgyan

अधिक समय तक किसी कार्य को करने के लिए अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। तरबूज खा कर आप अपने शरीर को अधिक उर्जा दे सकते हैं। क्योंकि तरबूज में ऊर्जा स्तर बढ़ाने की क्षमता होती है। तरबूज में पोटेशियम, विटामिन और बीटा कैरोटीन की मात्रा पाई जाती है जो आपके शरीर के ऊर्जा स्तर को बढ़ाती है और उसे स्थिर बनाए रखती है। यदि आप व्यायाम करने से पहले तरबूज के जूस का सेवन करते हैं तो आपको व्‍यायाम के दौरान डिहाइड्रेशन की समस्या भी नहीं होती और आपके ऊर्जा का स्तर भी बना रहता है।

6.मानसिक स्वास्थ्य के लिए – Watermelon Benefits For Mental Health in Hindidcgyan

Mental Health मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए आपके शरीर में पोषक तत्वों के साथ-साथ हार्मोंस के स्तर में भी संतुलन होना बहुत आवश्यक है। इन दोनों के स्तर में परिवर्तन कई प्रकार की मानसिक समस्या हैं जिसमें चिंता, तनाव, सिरदर्द और डिप्रेशन जैसी बड़ी समस्याएं भी शामिल होती हैं। इन को दूर करने के लिए आप तरबूज का सेवन कर सकते हैं तरबूज में मन को शांत करने वाले गुण पाए जाते हैं इसमें पाया जाने वाला विटामिन सी मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत ही आवश्यक होता है इसलिए नियमित रूप से तरबूज का सेवन कर आप अपने मस्तिष्क को खुश रख सकते हैं और अच्छा स्वास्थ्य भी पा सकते हैं।

7.पौरुष शक्ति बढ़ाने के लिए – Watermelon Benefits For Sexual Power in Hindi

जी हां तरबूज को खाकर आप अपनी यौन शक्ति को बढ़ा सकते हैं नपुंसकता से जूझ रहे लोगों के लिए तरबूज वियाग्रा की तरह कार्य कर सकता है एक अध्ययन से पता चला है कि तरबूज में वियाग्रा की दवा कि जैसे गुण मौजूद होते हैं इसलिए तरबूज का सेवन सेक्स पावर को बढ़ाने के लिए किया जा सकता है तरबूज के जूस को पीने से टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की मात्रा में वृद्धि होती है जो कि सेक्स की इच्छा को बढ़ाता है इस प्रकार तरबूज का सेवन यौनशक्ति को बढ़ाने के लिए एक प्राकृतिक वियाग्रा के रूप में किया जा सकता है।

8.गुर्दे को स्वस्थ रखने में – Watermelon Benefits For Kidney in Hindi

पानी की कमी होने पर कई बार गुर्दे में कई तरह की समस्याएं उत्पन्न होती हैं। तरबूज एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक के रूप में जाना जाता है क्योंकि इसमें पानी की मात्रा अधिक होती है। जो शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में गुर्दे की मदद करता है जिससे हमारे शरीर मैं उत्पन्न विषैले पदार्थ आसानी से बाहर निकाल दिए जाते हैं।

9.आँखों के लिए – Watermelon Benefits For Eyes in Hindidcgyan

लाइकोपीन एवं विटामिन ए का मिश्रण आंख से सम्बंधित अनेक बीमारियों जैसे – रतौंधी, मोतियाबिंद और अन्य उम्र से संबंधित समस्याओं से हमें सुरक्षा प्रदान करता है। बीटा कैरोटीन का एक अच्छा स्रोत होने की वजह से, तरबूज आँखो के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। तरबूज रेटिना में पिगमेंट के उत्पादन में मदद करता है इसलिए तरबूज खाने से आँखों को स्वस्थ रखा जा सकता है।

10.कैंसर से बचाव – Watermelon Cure for Cancer in Hindi

तरबूज में पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए और बीटा कैरोटीन (Beta-carotene) होते हैं, इसमें लाइकोपीन (lycopene) की भी अच्छी मात्रा मौजूद होती है। लाइकोपीन एक एंटीऑक्सिडेंट (antioxidant) है जो कैंसर होने की सम्भावना को बहुत कम करता है। तरबूज ना केवल कैंसर से बचाव करने में सक्षम है अपितु यह कैंसर के उपचार में भी इस्तेमाल किया जाता है। यह कोशिकाओं को कैंसर के वार से बचाता है और कुछ प्रकार के कैंसरों के खतरों को भी कम कर देता है।dcgyan

11.एंटीऑक्सीडेंट का भंडार – Watermelon Works as Antioxidant in Hindi

तरबूज एक प्रभावशाली एंटीऑक्सीडेंट है जो शरीर को रोग-मुक्त रखने में एक एहम भूमिका निभाता है। यह विटामिन सी और लाइकोपीन, बीटा कैरोटीन, लूटिन जैसे फ्लेवोनॉइड्स (flavonoids) का बहुत अच्छा स्रोत है। तरबूज का यह चमत्कारी गुण हमें संधिशोथ (rheumatoid arthritis), ऑस्टियोआर्थराइटिस, अस्थमा, स्ट्रोक, दिल के दौरे एवं कई अन्य बीमारियों से बचाता हैं। यह प्रदुषण के कारण होने वाले त्वचा के नुकसान पर भी रोक लगाता है।       
Advertisements

12.अस्थमा में – Tarbooj ka fayda for Asthma in Hindi

एक नयी रिसर्च द्वारा यह पता चला है कि शरीर में विटामिन सी का स्तर कम होने की वजह से अस्थमा के दौरे बढ़ सकते हैं, जबकि शरीर में विटामिन सी का उच्च स्तर अस्थमा के लक्षणों को कम करने में मदद करता हैं। अधिक विटामिन सी से समृद्ध खाद्य पदार्थ खाने से अस्थमा काबू में रह सकता है, जैसे तरबूज जिसमें 40% विटामिन सी पाया जाता है और इसे प्रतिदिन खाया जा सकता है।dcgyan

13.गर्भावस्था में – Tarbooj ka fayda for Pregnant Women in Hindi

  1. (pregnant lady )गर्भवती महिलाओं को विभिन्न पाचन समस्याएं हो सकती है- जैसे एसिडिटी और सीने में जलन। तरबूज की तासीर ठंडी होती है जो इन समस्याओं से तुरंत राहत देते हुए इन्हे कम करने में मदद करता है।

  2. तरबूज का किसी भी रूप में सेवन करने से शरीर को मांसपेशियों की ऐंठन से राहत मिल सकती है।

  3. Tarbooj तरबूज पाचन को सही करता है और बदले में, त्वचा को अच्छा करता है। त्वचा के विभिन्न हिस्सों में पिग्मेंटेशन को शरीर की नियमित सफाई से कम किया जाता है और त्वचा को निखारा जा सकता है।

  4. गर्भावस्था के दौरान कब्ज एक आम समस्या है। तरबूज का सेवन करने से कब्ज़ को ठीक करने में मदद मिल सकती है।

  5. तरबूज आपके शरीर के तापमान और रक्तचाप दोनों को ही कम करने में मदद करता है। बहुत से लोग गर्मियों के दौरान इस फल का सेवन करते हैं जिससे उन्हें लू लगने का खतरा कम होता है। तरबूज के अंदर पानी उच्च मात्रा में मौजूद होता है जो पसीने के रूप में अतिरिक्त तरल को शरीर से बहार निकालता है और गर्मियों के दिनों में आपके शरीर को ठंडा करता है।

तरबूज की तासीर – Tarbooj ki taseer in Hindi

Tarbooj तरबूज की तासीर ठंडी होती है और इसका सेवन गर्मियों के मौसम में शरीर को ठंडा करने में मदद करता है। तरबूज खाने से कब्ज़ भी ठीक हो सकता है। तरबूज के अंदर पानी अधिक मात्रा में होता है जो पसीने के रूप में अतिरिक्त तरल को शरीर से बहार निकालता है और गर्मियों के दिनों में आपके शरीर को ठंडा करता है।

तरबूज खाने का सही तरीका – Tarbooj khane ka sahi tarika in Hindi

  1. आप तरबूज को काटकर इसका सेवन कर सकते हैं।

  2. तरबूज को सलाद के रूप में भी खाया जा सकता है।

  3. आप तरबूज को मिक्सर (mixer) में पीस लें और उसका पानी पिएं।

  4. तरबूज का कॉकटेल (cocktail) या मॉकटेल (mocktail) बनाकर भी आप इसे पी सकते हैं।

Advertisements

तरबूज खाने का सही समय – Tarbooj khane ka sahi samay in Hindi

आयुर्वेदा के हिसाब से तरबूज को रात के समय नहीं खाना चाहिए, इससे दस्त जैसी समस्या भी हो सकती है। तरबूज खाने का सही समय सुबह या दोपहर का होता है। और केवल तरबूज ही नहीं हर एक फल को सुबह या दोपहर में भी खाना चाहिए।

तरबूज खाने के नुकसान – Watermelon Side Effects in Hindi

जैसा कि आपने ऊपर जाना तरबूज खाने के अनेक फायदे हैं किंतु अगर तरबूज की सही मात्रा में सेवन ना किया जाए तो इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। आइए जानते हैं तरबूज खाने के नुकसान क्या है और कैसे इनसे बचा जा सकता है।

  1. तरबूज का कम मात्रा में सेवन बहुत ही लाभदायक होता है एक व्यस्क व्यक्ति को 1 दिन में 200 ग्राम से अधिक तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिए

  2. जो व्यक्ति पहले से गुर्दे (kidney) जैसी समस्या से परेशान हैं उसे तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिए। (और पढ़े – किडनी फ़ैल, कारण, लक्षण, निदान और उपचार)

  3. बहुत अधिक मात्रा में तरबूज का सेवन करना ब्लड में रक्त शर्करा को बढ़ा सकता है इसलिए तरबूज का सेवन डायबिटीज से ग्रस्त व्यक्तियों और गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाओं को कम मात्रा में ही तरबूज का सेवन करना चाहिए।

  4. तरबूज को रक्तचाप से ग्रस्त व्यक्तियों को भी अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि तरबूज में अधिक मात्रा में पोटेशियम होता है जो कि रक्तचाप को कम कर सकता है और हृदय संबंधी समस्याओं को उत्पन्न कर सकता है।

  5. जैसा की हमने आपको बताया तरबूज में लाइकोपीन की मात्रा बहुत अधिक होती है इसलिए इसके अधिक मात्रा मैं सेवन से दस्त, उल्टी, अपच और गैस जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं।

  6. तरबूज खाने के बाद लगभग आधे से 1 घंटे तक आपको पानी नहीं पीना चाहिए।

मुझे यकीन है कि दुष्प्रभावों की कोई भी मात्रा आपको अपने पसंदीदा तरबूज  से दूर नहीं रखेगी! लेकिन, इन दुष्प्रभावों को ध्यान में रखने की कोशिश करें और अपने तरबूज से स्वास्थ लाभ प्राप्त करें !

किसी भी सप्लीमेंट्स के मुकाबले फल अधिक पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं और तरबूज भी उन्हीं फलों में से एक है। इसका संतुलित मात्रा में अगर सेवन किया जाए, तो यह गुणों का खजाना हो सकता है।

धन्यबाद ,

Advertisements

Tags:

Watermelon,तरबूज, tarbooz ke fayde,tarbooz ke fawaid, tarbuj ke fayde,तरबूज खाने के फायदे और नुकसान,तरबूज खाने के फायदे और नुकसान essay,तरबूज खाने के फायदे और नुकसान new,tarbuj eating tarbuj fruit, tarbuj fal, tarbuj fruit juice,tarbuj ice cream,tarbuj in pregnancy in hindi,tarbuj in hindi,tarbuj juice, tarbuj juice recipe,tarbuj juice ke fayde,tarbuj ki video,tarbuj ke fayde, tarbuj pregnancy, tarbuj ras,tarbuj seeds benefits,tarbuj khane ka tarika tarbooz khane ka tarika,tarbooz in pregnancy, #tarbujkhanekefayde,

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *