बेर खाने के गुण फायदे एवम लाभ और नुकसान – Benefits and Side Effects of Jujube Fruit (Ber) in Hindi

बेर खाने के गुण फायदे एवम लाभ और नुकसान

Benefits and Side Effects of Jujube Fruit (Ber) in Hindi

पकी हुई बेर का नाम सुनते ही आपके मुंह में पानी आना लाजमी है क्‍योंकि यह फल है ही इतना स्‍वादिष्‍ट। सर्दीयों के मौसम में मिलने वाले स्‍वादिष्‍ट फल के रूप में बेर को जाना जाता है। बेर (जूजूबे – Jujube) पोषक तत्वों का संग्रह है। यह एक बहुत ही शक्तिशाली भोजन है जो लाखों लोगों के लिए स्वास्थ्य का खजाना है। बेर का वैज्ञानिक नाम ज़िज़िफस जुजुबा (Ziziphus jujuba) है। यह बकथॉर्न परिवार रमनेसी (Rhamnaceae) का सदस्‍य है। आइए जानते है।

बेर के फायदे  Video 

पके बेर के गुण:-  पके बेर मधुर खट्टे, गर्म, कफकर, पाचक, लघु और रुचिकारक होते हैं और अतिसार, रक्तदोष, दस्त और सूखे के रोग को खत्म करता है।
Advertisements

 

Indian jujube (Ber) – Fresh Fruit

Nutritional value per 100 g (3.5 oz)

Energy

244.76 kJ (58.50 kcal)

 

Carbohydrates

17 g

Sugars

5.4-10.5 g

Dietary fibre

0.60 g

 

Fat

0.07 g

 

Protein

0.8 g

 

Vitamins

Quantity%DV

Thiamine (B1)

2%

0.022 mg

Riboflavin (B2)

2%

0.029 mg

Niacin (B3)

5%

0.78 mg

 

Minerals

Quantity%DV

Calcium

3%

25.6 mg

Iron

8%

1.1 mg

Phosphorus

4%

26.8 mg

 

Other constituents

Quantity

Water

81.6-83.0 g

 

आइए जानते है   बेर के फायदे – Ber ke Fayde in Hindi

बेर में बहुत कम मात्रा में कैलोरी होती है और यह ऊर्जा का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है। इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व, विटामिन और खनिज पाए जाते हैं। पोषक तत्वों के साथ साथ यह एंटी-ऑक्सीडेंट के गुणों से भी भरपूर होता है। तो आइये जानते हैं बेर के लाभों के बारे में-

1.रक्त की सफाई के लिए : बेर फल में पाए जाने वाले सैपोनिन और एल्कोनॉइड सीधे रक्त की शुद्धता और शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। इसके एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव बड़ी संख्या में रोगों को रोकने में मदद कर कर सकते हैं और प्रतिरक्षा और लसीका प्रणाली पर तनाव को कम कर सकते हैं।khoon nali

2.थकावट को दूर करने के लिए :- बेर फल के लाभों में से एक यह है कि यह ऊर्जा का एक शक्तिघर है। यह फल कैलोरी में कम होने के बावजूद, एक अच्छा ऊर्जा बूस्टर है। तो जल्दी से अपनी थकान से छुटकारा पाने के लिए इस फल का सेवन करें।

3.वजन कम करने के लिए :- वजन कम करने का प्रयास करने वाले लोगों के लिए फलों और सब्जियों का सेवन करना एक आम सुझाव होता है। बेर और एक अन्य भोजन है जिसे आप अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। कम कैलोरी और उच्च प्रोटीन और फाइबर स्तर के साथ बेर, आपकी पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा कर सकते हैं। इसके सेवन से आपका पेट भरा हुआ रहता है जिससे आप बार बार खाने से बच जाते हैं।
Advertisements

4.पाचन में सहायक :  यदि आप अपचन या पेट से संबंधित किसी समस्‍या के शिकार हैं तो बेर एक अच्‍छा विकल्‍प है। क्‍योंकि फाइबर की अच्‍छी मात्रा होने के साथ ही बेरी में सैपोनिन और ट्राइटरपीनोइड (saponins and triterpenoids) होते हैं। ये घटक भोजन से पर्याप्‍त पोषक तत्‍वों को अवशोषित करते हैं। इस तरह से आप अपनी पाचन शक्ति को बढ़ाने में बेर की मदद ले सकते हैं। बेर का नियमित सेवन कर आप कब्‍ज, अपच, पेट की गैस और पेट फूलना आदि समस्‍याओं से बच सकते हैं।sir dard

5.मस्तिष्‍क क्षति से बचने के लिए :-  उम्र बढ़ने के साथ ही मस्तिष्‍क कोशिकाओं की कार्य क्षमता कम होने लगती है। जिसके कारण व्‍यक्ति कई प्रकार की मस्तिष्‍क संबंधी समस्‍याओं से घिर सकते हैं। लेकिन यदि नियमित रूप से बेर का सेवन किया जाता है। तो यह इस प्रकार की संभावना को कम कर सकता है। इसमें मौजूद पोषक तत्‍व ग्‍लूटामेट (glutamate) जो कि एक न्‍यूरोट्रांसमीटर उत्‍तेजक होता है इसे रोक सकता है।कील, मुंहासे , रामबाण ,घरेलु ,उपचार,Surprising, Home, Remedies, Acne,

6.बेर बेनिफिट्स फॉर स्किन :  बेर में एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। इन्हीं गुणों के कारण बेरी के फायदे त्‍वचा की झुर्रियों, मुंहासों, डार्क सर्कल्‍स आदि समस्‍याओं को दूर करते हैं। इसके अलावा बेर का उपभोग कर आप एक्जिमा जैसी त्‍वचा समस्‍याओं का प्रभावी इलाज कर सकते हैं। यह त्‍वचा में मेलेनोमा (melanoma) जो कि त्‍वचा कैंसर कोशिकाएं हैं इन्‍हें फैलने से रोकता है। इस तरह से आप अपनी त्‍वचा संबंधी परेशानियों को दूर करने के लिए बेर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।dcgyan

7.हड्डियों के लिए :- उम्र बढ़ने के साथ ही हड्डियों का कमजोर होना सामान्‍य है। लेकिन आप अपनी हड्डियों को मजबूत रख सकते हैं। नियमित रूप से बेरी का सेवन उम्र बढ़ने पर ऑस्टियोपोरोसिस की समस्‍या को कम कर सकता है। क्‍योंकि बेर में कैल्शियम और फॉस्‍फोरस की अच्‍छी मात्रा होती है। ये घटक आपकी हड्डियों को मजबूत करने में सहायक होते हैं।
Advertisements

 8.अच्‍छी नींद के लिए :  बेरी का उपयोग पारंपरिक रूप से अनिद्रा का इलाज करने में किया जाता है। बेर के शामक गुण पूरे तंत्रिका तंत्र पर सुखदायक प्रभाव छोड़ते हैं जो अच्‍छी नींद को प्रेरित करते हैं। इस तरह से आप भी नींद की कमी को दूर करने के लिए बेर का उपयोग कर सकते हैं।dil,hurt

9.हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए :  ऐसा माना जाता है कि नियमित रूप से बेर का सेवन हृदय को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करता है। क्‍योंकि बेर में पोटेशियम की अच्‍छी मात्रा होती है साथ ही यह सोडियम में भी कम है। बेर के इन गुणों के कारण यह रक्‍त वाहिकाओं को आराम दिलाने में सहायक होते हैं। यह आपके रक्‍तचाप को नियंत्रित कर हृदय को सुरक्षा दिलाते हैं। बेरी में एक प्रकार का एंटीथ्रोजेनिक गुण भी होता है जो धमनियों में वसा को जमने से रोकता है। इससे यह स्‍पष्‍ट होता है कि बेर का सेवन कर आप अपने हृदय को स्‍वस्‍थ्‍य रख सकते हैं।www.dcgyan.com

10.रक्‍तचाप को नियंत्रित करे :  जब आपके शरीर में उचित रक्‍त परिसंचरण होता है तो शरीर में पर्याप्‍त ऑक्‍सीजन की पूर्ति होती है। आमतौर पर ऑक्‍सीजन के उचित प्रवाह के कारण शरीर में ऊर्जा का प्रवाह बढ़ जाता है। आप अपने रक्‍तचाप को नियंत्रित करने और ऊर्जा प्राप्‍त करने के लिए बेर के फायदे प्राप्‍त कर सकते हैं। इसके लिए आप नियमित रूप से कुछ पकी हुई बेरों का सेवन कर सकते हैं। यह आपके रक्‍त परिसंचरण को सुधारकर रक्‍तचाप को नियंत्रित करता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि बेरी के पोषक तत्‍वों में आयरन और फास्‍फोरस की अच्‍छी मात्रा होती है। ये दोनों ही घटक लाल रक्‍त कोशिकाओं के उत्‍पादन में सहायक होते हैं। इसके अलावा यह स्‍वस्‍थ्‍य परिसंचरण में भी अहम भूमिका निभाते हैं। इस तरह से बेर के फायदे रक्‍तचाप और हृदय स्‍वास्‍थ के लिए होते हैं।dcgyan

11.प्रतिरक्षा बढ़ाने में मदद करे :  आप अपनी प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने के लिए बेर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। बेरी में विटामिन ए, विटामिन सी और अन्‍य खनिज पदार्थ होते हैं। ये सभी घटक शरीर के लिए एंटीऑक्‍सीडेंट का काम करते हैं। इनकी मौजूदगी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक होती है। ये घटक शरीर को फ्री रेडिकल्‍स से होने वाले नुकसान जैसे कि कैंसर, हृदय रोग और अन्‍य समान्‍य बीमारियों से बचाते हैं। इसके अलावा कई प्रकार की एलर्जी का उपचार करने में भी बेरी का उपयोग किया जाता है। यदि आप भी अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं तो बेरी का उपभोग कर सकते हैं।

12.बेर तनाव को कम करें :  यदि आप तनाव से छुटकारा चाहते हैं तो बेर आपकी मदद कर सकती है। परंपरागत रूप से बेर का उपयोग तनाव, अवसाद और अन्‍य मानसिक समस्‍याओं को दूर कर सकती है। क्‍योंकि यह शरीर और दिमाग में शांत प्रभाव छोड़ती है।

आइए जानते है  बेर के नुकसान – Ber ke Nuksan in Hindi

1.बेर मधुमेह से पीड़ित लोगों के लिए खतरनाक हो सकता है, क्योंकि इसमें कई जटिल कार्बोहाइड्रेट होते हैं और यह रक्त में शर्करा के स्तर को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है।

2.फलों से एलर्जी वाले लोगों को, इसके सेवन से पहले अपने डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए।

3.बेर एक सामान्य फल है। इसको ज्यादा खाने से खांसी होती है। कच्चे बेर कभी नहीं खाने चाहिए।

Advertisements

मुझे यकीन है कि दुष्प्रभावों की कोई भी मात्रा आपको अपने पसंदीदा बेर  से दूर नहीं रखेगी! लेकिन, इन दुष्प्रभावों को ध्यान में रखने की कोशिश करें और अपने बेर से स्वास्थ लाभ प्राप्त करें !

किसी भी सप्लीमेंट्स के मुकाबले फल अधिक पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं और बेर  भी उन्हीं फलों में से एक है। इसका संतुलित मात्रा में अगर सेवन किया जाए, तो यह गुणों का खजाना हो सकता है। हम आशा करते हैं इस आर्टिकल से आपको  बेर खाने से जुड़े सवालों के जवाब मिल चुके होंगे। अगर अभी भी आपके मन में कोई उलझन है, तो आप उसे कमेंट के जरिए हम तक पहुंचा सकते हैं। इस आर्टिकल को देखने, शेयर व लाइक करने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यबाद ,

Advertisements

Tags:-

बेर खाने के गुण फायदे एवम लाभ व नुकसान,बेर के फायदे new video,about बेर के फायदे इन हिंदी, where are बेर के फायदे इन हिंदी, where will बेर के फायदे इन हिंदी, बेर फल खाने के फायदे, बेर के फायदे treatment, बेर के फायदे new, ber ke fayde, ber ke fayde in hindi,ber ke fayde hindi me, बेर खाने के फायदे व नुकसान, बेर के फायदे नुकसान,बेर खाने के फायदे,Jujube Fruit,

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *