क्या शिशु माँ के गर्भ में सीखता है ? Does the baby learn in the mother’s womb?

क्या शिशु माँ के गर्भ में सीखता है ? Does the baby learn in the mother’s womb?

जब पहली बार किसी औरत को पता चलता है कि वह मां बनने वाली है, तब से लेकर जब बच्चा पहली बार गर्भ के अंदर किक मारता है, जब वह पहली बार हिचकी लेता है, जब आप उसकी पहली बार हार्ट बीट सुनती हैं… ये सारे अनुभव बेहद खास होते हैं। मां के लिए 9 महीने तक अपने गर्भ में बच्चे को पालना एक बेहद खास और स्पेशल एक्सपीरियंस होता है। इस दौरान गर्भ में धीरे-धीरे बड़ा हो रहा आपका बच्चा अपनी पोजिशन बदलता है, इधर-उधर घूमता है, कभी ऐक्टिव रहता है तो कभी शांत हो जाता है…आपको शायद यकीन ना हो लेकिन कभी कभार तो बच्चा गर्भ के अंदर रोता भी है।

Advertisements

बच्चे की इंद्रियां होती हैं विकसित

नई स्टडी में खुलासा हुआ है कि गर्भ में पल रहा बच्चा आपकी आवाज सुनने और किक मारने के अलावा और भी बहुत कुछ करता है। गर्भ में धीरे-धीरे पल रहा और बड़ा हो रहा शिशु आपकी और हमारी सोच से कहीं ज्यादा स्मार्ट होता है। बर्क्ले स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफॉर्निया के एक्सपर्ट्स ने खुलासा किया है कि भले ही गर्भ में पल रहा बच्चा अभी डिवेलपमेंट की स्टेज में हो लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि उसके सेंसेज यानी इंद्रियां विकसित नहीं हो रही होतीं।

चीजों को महसूस करने लगता है बच्चा

पैदा होने से पहले ही बच्चे को देखना और आसपास मौजूद चीजों को महसूस करना आ जाता है। बच्चे की आंख में स्थित रेटिना में मौजूद लाइट सेंसेटिव सेल्स जिन्हें पहले सिर्फ बच्चे को दिन और रात के बीच बैलेंस बनाए रखने में मददगार माना जाता था, उसकी मदद से बच्चे की आंखों को सेंसिटिविटी मिलती है, ब्रेन का विकास होता है और बच्चे का भविष्य भी बेहतर होता है। साथ ही गर्भ में पल रहे बच्चे बहुत ज्यादा अवेयर यानी जागरुक भी होते हैं।

Advertisements

सीखना और याद करना शुरू कर देता है बच्चा

यही वजह है कि गर्भवती स्त्री के सामने कोई भी बात कहने से पहले सोच समझकर बोलना चाहिए। जांच करने पर यह बात भी सामने आयी कि बच्चे गर्भ के अंदर ही सुन भी सकते हैं और मां की बातों को सुनकर उसके हिसाब से प्रोसेस भी करने लगते हैं। स्टडी के नतीजों में यह बात सामने आयी कि गर्भ में पल रहा भ्रूण भी न्यू बॉर्न बेबी की ही तरह सीख सकते है और बातों को याद रख सकता है।

Advertisements

सनातन के अनुसार

नारद मुनि ने कयाधु को निर्देश दिया। उनके बच्चे प्रह्लाद महाराजा ने उनके गर्भ में रहते हुए विज्ञान को सुना और एक दानव के परिवार में जन्म लेने वाले सबसे बड़े भक्त बन गए। आधुनिक विज्ञान ने यह दिखाने के लिए कई अध्ययन किए हैं कि बच्चे गर्भ में कैसे सुन सकते हैं और सीख सकते हैं, कैसे वे माँ की आवाज़ को पहचान सकते हैं और वे गर्भ में रहते हुए ध्वनियों, स्वरों, गंधों और प्रकाश के बारे में कैसे सीख सकते हैं। भक्ति का अभ्यास करने वाली कई गर्भवती महिलाएं बच्चे के आध्यात्मिक विकास में सहायता करने के लिए एक दैनिक भक्ति अभ्यास का पालन करना पसंद करती हैं, जबकि बच्चा गर्भ में होता है। बच्चा बहुत स्पष्ट रूप से सुन सकता है क्योंकि माँ उसके जप और आध्यात्मिक विषयों की सुनवाई बढ़ाती है। बच्चा आध्यात्मिक ज्ञान विकसित करता है। जल्दी। यह न केवल बच्चे को आध्यात्मिक ज्ञान को जल्दी से पकड़ने में मदद करता है, बल्कि यह गर्भ में बहुत कठिन स्थिति में संघर्ष कर रहे बच्चे को भी शांत करता है।

Advertisements

वैज्ञानिकों के अनुसार

वाशिंगटनः वैज्ञानिकों का कहना है कि बच्चे गर्भ में ही भाषा सीखने लगते हैं. उन्होंने पाया किया कि बच्चे अपने जन्म से एक महीने पहले अंग्रेजी और जापानी भाषा में भेद कर सकते हैं. पुराने अध्ययनों में बच्चों के व्यवहार में अंतर से इस बात का पता चला था. इन अध्ययनों में इस बात पर गौर किया गया कि अलग लय के साथ एक भाषा से दूसरी भाषा में जाने पर बच्चे द्वारा किसी वस्तु को काटने की रफ्तार में कोई बदलाव होता है या नहीं.

अमेरिका के कंसास विश्वविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर उताको मिनाई ने कहा कि गर्भ में भ्रूण भाषण सहित अन्य चीजों को सुन सकते हैं. औसतन करीब आठ महीने की गर्भवती दो दर्जन महिलाओं की ‘मैगनेटोकार्डियोग्राम’ के जरिये जांच की गई.

शोधकर्ताओं ने एक द्विभाषिये को बुलाकर उनसे एक बार अंग्रेजी और एक बार जापानी भाषा में भाषण रिकार्ड कराया गया जिसे भ्रूण के पास एक एक करके चलाया गया. अंग्रेजी और जापानी भाषाएं लय के मामले में भिन्न होती हैं.

जब भ्रूण ने अंग्रेजी के भाषण का एक पैरा सुनने के बाद लय के रूप में भिन्न भाषा :जापानी: सुनी तो उसके दिल की धड़कनें बढ गईं जबकि जब उन्हें जापानी की जगह अंग्रेजी का दूसरा पैरा सुनाया गया तो उनके दिल की धड़कनों की गति नहीं बदली.

Video

Tags:

गर्भ संस्कार क्यों,गर्भ संस्कार,गर्भ संस्कार मंत्र,गर्भ संस्कार,गर्भ संस्कार पुस्तक,गर्भ संस्कार संगीत ,गर्भ संस्कार विधि,गर्भ ज्ञान,क्या शिशु माँ के गर्भ में सीखता है?, Does the baby learn in the mother’s womb?,BABIES CAN LEARN IN THE WOMB in hindi,prenatal education for baby in womb in hindi,talking to baby in womb during pregnancy in hindi,fetal learning in the womb in hindi,when can baby hear mom in the womb in hindi,dad talking to baby in womb in hindi,what do babies do in the womb all day in hindi,connection between mother and child during pregnancy in hindi,baby in the womb in hindi,devotional songs to listen during pregnancy in hindi,mantras to chant during pregnancy in hindi,mantra for intelligent baby during pregnancy in hindi,gayatri mantra during pregnancy in hindi,vedic mantras during pregnancy in hindi,good thoughts during pregnancy hindu mythology in hindi,maha mrityunjaya mantra during pregnancy in hindi,why do very powerful mantra to get pregnant in hindi,
Share this:
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments