iron deficiency anemia,anemia treatment,low hemoglobin symptomsअनीमिया, 

aenimia

 

iron deficiency anemia,anemia treatment,low hemoglobin symptoms,anemia diet

अनीमिया, लक्षण, कारण, और आपकी देखभाल

अनीमिया(anemia) से पीड़ित किसी व्यक्ति में लाल रक्त को शिकाओं की संख्या सामान्य स्तर से कम होती है। लाल रक्त कोशिकाएं शरीर की सभी कोशिकाओं तक ऑक्सीजन ले जाती हैं।  जब लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या सामान्य से कम हो जाती है, तो रक्त कम मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचाता है।aenimia

लक्षण (Symptoms)

ऐसा हो सकता है कि अनीमिया से पीड़ित व्यक्ति को कोई लक्षण दिखाई न दे। अनीमिया के और अधिक बिगड़ने पर आपको ये महसूस हो सकते हैं,

  1. थकावट, कमज़ोरी या थकान महसूस करना।

  2. चक्कर आना या बेहोशी छाना।

  3. हाथों या पैरों का ठंडा होना।

  4. सिर दर्द।

  5. पीली चमड़ी या नाखून जो आसानी से टूट जाते हों।

  6. स्पश्टता के साथ न सोच पाना या ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई।

  7. सांस फूलना या छाती में दर्द।

  8. तेज और असामान्य दिल की धड़कन।

  9. मासिक धर्म कम होना अथवा मासिकधर्म के समय अधिक रक्तस्राव होना।

  10. यदि आपको इनमें से कोई भी लक्षण हो तो अपने चिकित्सक से बात करें।aenimia

कारण

  1. अनीमिया के कारणों में ये शामिल हैं

  2. शरीर द्वारा लौह तत्व के उपयोग में समस्या।

  3. लौहतत्व से भरपूर भोजन पर्याप्त मात्रा में न खाना।

  4. रक्तस्राव या रक्त का अधिक बह जाना, जैसे कि रजोधर्म के समय अधिक रक्तस्राव द्वारा।

  5. गर्भधारण।

  6. शरीर में फोलेट या बी-12 विटामिन की कमी।

  7. कैंसर जैसे कुछ रोगों का उपचार जो शरीर के द्वारा नई लाल रक्त कोषिकाओं के निर्माण को अधिक कठिन बना देते हैं।

  8. सिकल सेल बीमारी जिसमे शरीर की बहुत अधिक लाल रक्त कोषिकाएँ नष्ट हो जाती हैं।

  9. प्रतिरोधी क्षमता संम्बन्धी समस्याएं जिसमें षरीर लाल रक्त कोषिकाओं को नष्ट कर देता है या उनका निर्माण नहीं कर पाता है।

  10. एक साल से कम आयु के षिषु जो गाय या बकरी का दूध पीते हैं।

  11. ऐसे शिशु जिन्हें बिना अतिरिक्त लोह तŸव का फार्मूला पिलाया जाता है।aenimia

आपकी देखभाल

anemia diet

आपका डॉक्टर आपके अनीमिया के कारणों का पता लगाने और इलाज की योजना बनाने के लिए परीक्षण करेगा। आपको ये चीजें करनी होगीं,

स्वस्थ भोजन (anemia diet)खाना जिसमें फल, सब्ज़ियाँ, ब्रेड, डेयरी उत्पाद, मीट और मछली शामिल हैं। लौहतत्व से भरपूर भोजन जैसे  सूअर या मेमने का मुलायम गोष्त, मुर्गी, समुद्री आहार, लौहयुक्त खाद्यान्न और अनाज, पालक जैसी हरी पत्तीदार सब्ज़ियाँ, गिरीदार फल और फलियाँ अधिक मात्रा में खाएँ। आपका डॉक्टर आपके स्वस्थ भोजन की योजना बनाने के लिए आपको किसी आहार विषेषज्ञ से मिलने के लिए कह सकता है।

  1. विटामिन या लौह पूरक लेना।

  2. अधिक रक्त बहजाने के उपचार के लिए रक्ताधान करवाना। खून को अन्तर्षिरीय तरीके से रक्त वाहिका में डाला जाता है।

  3. आपके अनीमिया संम्बन्धी कारण का उपचार करने के लिए दूसरे इलाज भी करवाएं जैसे कि दवाओं का सेवन या शल्यक्रिया,

यदि आपका कोई प्रश्न या शंका हो, तो अपने चिकित्सक या नर्स से पूछें।

Talk to your doctor or nurse if you have any questions or concerns.

Tags: एनीमिया,एनीमिया क्या है,एनीमिया के उपचार,एनीमिया परिभाषा,एनीमिया के प्रकार,एनीमिया रोग,एनीमिया की रोकथाम,एनीमिया का आयुर्वेदिक इलाज,एनीमिया डाइट,एनीमिया के घरेलू उपचार,एनीमिया के लक्षण,एनीमिया बीमारी,iron deficiency एनीमिया,fanconi एनीमिया,ferritin एनीमिया,एनीमिया home remedies,मेगालोब्लास्टिक एनीमिया in hindi,अप्लास्टिक एनीमिया क्या है,एनीमिया in hindi,एनीमिया iron deficiency,एनीमिया meaning in marathi,एनीमिया means in english,एनीमिया के कारण,एनीमिया ke lakhan,एनीमिया ki paribhasha,एनीमिया लक्षण,एनीमिया medicine,macrocytic एनीमिया,normocytic normochromic एनीमिया,normochromic एनीमिया,एनीमिया sintomas,एनीमिया symptom,sideroblastic एनीमिया,एनीमिया wikipedia,जैव संयोजन 1 एनीमिया,iron deficiency anemia,anemia treatment,low hemoglobin symptoms,hematology tests,anemia diet,anaemia symptoms,anemia meaning in hindi,dangerously low hemoglobin ,levels,anemia in pregnancy,anemia in children,anemia test,how to treat anemia,skin pallor,
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *