मैं उस दरबार का सेवक हूँ लिरिक्स | Main Us Darabaar Ka Sevak Hoon Lyrics

मैं उस दरबार का सेवक हूँ लिरिक्स 

Advertisements

MP3 Audio

************ लिरिक्स **************

तर्ज – मैं पल दो पल का शायर हूँ।

 

मैं उस दरबार का सेवक हूँ,

जिस दर की अमर कहानी है,

मैं गर्व से जग में कहता हूँ,

मेरा मालिक शीश का दानी है,

मै उस दरबार का सेवक हूँ।।

 

इनके दरबार के नौकर भी,

दुनिया में सेठ कहाते है,

जिनको है मिली सेवा इनकी,

वो किस्मत पे इतराते है,

जो श्याम की सेवा रोज करे,

वो रात दिवस फिर मौज करे,

जिन पे है इनायत बाबा की,

खुद खुशियाँ उनकी खोज करे।

मै उस दरबार का सेवक हूँ,

जिस दर की अमर कहानी है,

मैं गर्व से जग में कहता हूँ,

मेरा मालिक शीश का दानी है,

मै उस दरबार का सेवक हूँ।।

 

जब भी कोई चित्कार करे,

तो इनका सिंहासन हिलता है,

ये रोक नही पाता खुद को,

झट जा कर उससे मिलता है,

जो श्याम प्रभु से आस करे,

बाबा ना उनको निराश करे,

उन्हें खुद ये राह दिखाता है,

जो आँख मूंद विश्वास करे।

मै उस दरबार का सेवक हूँ,

जिस दर की अमर कहानी है,

मैं गर्व से जग में कहता हूँ,

मेरा मालिक शीश का दानी है,

मै उस दरबार का सेवक हूँ।।

 

जिसने भी श्याम की चौखट पर,

आ कर के माथा टेका है,

उस ने मुड़ करके जीवन में,

वापस ना फिर कभी देखा है,

‘माधव’ जब श्याम सहारा है,

तो जीवन में पौबारा है,

जो हार गया एक बार यहाँ,

वो हारा नही दोबारा है।

मै उस दरबार का सेवक हूँ,

जिस दर की अमर कहानी है,

मैं गर्व से जग में कहता हूँ,

मेरा मालिक शीश का दानी है,

मै उस दरबार का सेवक हूँ।।

 

मैं उस दरबार का सेवक हूँ,

जिस दर की अमर कहानी है,

मैं गर्व से जग में कहता हूँ,

मेरा मालिक शीश का दानी है,

मै उस दरबार का सेवक हूँ।।

Video

Main Us Darabaar Ka Sevak Hoon Lyrics

************Lyrics**************

tarj – main pal do pal ka shaayar hoon.

 

main us darabaar ka sevak hoon,

jis dar kee amar kahaanee hai,

 main garv se jag mein kahata hoon,

 mera maalik sheesh ka daanee hai,

mai us darabaar ka sevak hoon..

 

inake darabaar ke naukar bhee,

 duniya mein seth kahaate hai,

 jinako hai milee seva inakee,

 vo kismat pe itaraate hai,

 jo shyaam kee seva roj kare,

vo raat divas phir mauj kare,

 jin pe hai inaayat baaba kee,

 khud khushiyaan unakee khoj kare.

 

 mai us darabaar ka sevak hoon,

 jis dar kee amar kahaanee hai,

main garv se jag mein kahata hoon,

mera maalik sheesh ka daanee hai,

 mai us darabaar ka sevak hoon..

 

 jab bhee koee chitkaar kare,

 to inaka sinhaasan hilata hai,

ye rok nahee paata khud ko,

 jhat ja kar usase milata hai,

 jo shyaam prabhu se aas kare,

baaba na unako niraash kare,

unhen khud ye raah dikhaata hai,

 jo aankh moond vishvaas kare.

 

 mai us darabaar ka sevak hoon,

 jis dar kee amar kahaanee hai,

 main garv se jag mein kahata hoon,

 mera maalik sheesh ka daanee hai,

 mai us darabaar ka sevak hoon..

 

jisane bhee shyaam kee chaukhat par,

aa kar ke maatha teka hai,

us ne mud karake jeevan mein,

 vaapas na phir kabhee dekha hai,

 ‘maadhav’ jab shyaam sahaara hai,

 to jeevan mein paubaara hai,

 jo haar gaya ek baar yahaan,

vo haara nahee dobaara hai.

 

mai us darabaar ka sevak hoon,

 jis dar kee amar kahaanee hai,

 main garv se jag mein kahata hoon,

mera maalik sheesh ka daanee hai,

 mai us darabaar ka sevak hoon..

 

main us darabaar ka sevak hoon,

 jis dar kee amar kahaanee hai,

main garv se jag mein kahata hoon,

mera maalik sheesh ka daanee hai,

mai us darabaar ka sevak hoon..

 

Song- सेवक Sewak

Singer – Sanjay Mittal

Lyrics – Abhishek Sharma Madhav

Label – Saawariya

Advertisements

Tags:-

lyrics,Shyam Bhajan Lyrics,khatu shyam bhajan lyrics,Shyam Baba,shyam baba ke bhajan lyrics,krishna bhajan lyrics,bhajan with lyrics, lyrics bhajan,latest bhajan,2021 shyam bhajan lyrics,shyam bhajan 2021 lyrics,new shyam bhajan lyrics ,haare ka sahara lyrics,hindi bhajan video lyrics,shri krishna bhajan  lyrics,khatu shyam bhajan lyric,shyam bhajan lyrics 2021 latest,new khatu shyam bhajan lyrics 2022,krishna bhajan new lyrics,shyam bhajan lyrics, Shyam Bhajan ,मैं उस दरबार का सेवक हूँ लिरिक्स ,Main Us Darabaar Ka Sevak Hoon Lyrics,
Share this:
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments